GullyBuy एक ऑनलाइन शॉपिंग सेवा, 4 करोड़ रुपये के pre- Series A फंडिंग प्राप्ति की आज घोषणा करता है।

Click here to read in English

मराठीमध्ये वाचण्यासाठी येथे क्लिक करा


GullyBuy इस पैसे का उपयोग अधिक ग्राहकों तक पहुँचने और उत्पादों को विकसित करने के लिए करेगा


Pune, India, September 15, 2020: GullyBuy Software, पुणे स्थित स्टार्टअप कंपनी ने SEED Enterprises LLP और कुछ व्यक्तिगत निवेशकों द्वारा pre-series A फंडिंग में 4 करोड़ रुपये प्राप्त किए हैं। GullyBuy ने एक विशेष डिजिटल हाइपरलोकल मार्केट प्लेस (स्थानीय बाज़ार) समाधान प्रदान किया है, जो ग्राहकों को पड़ोस / शहर की दुकानों से किराने का सामान, भोजन व अन्य खाने की वस्तुयें,दवाईयाँ और रोज़मर्रा की आवश्यक वस्तुयें ऑनलाइन खरीदने की सुविधा प्रदान करता है। ग्राहकों और विक्रेताओं (स्टोर / रेस्टौरंट) के लिए अलग-अलग मोबाइल ऐप डिज़ाइन किया गया है। GullyBuy के बिजनेस मॉडल को कम-से-कम निवेश के सिद्धांत पर बनाया गया है।


SEED Enterprises LLP - अविनाश सेठी, मितेश बोरा और सिद्धार्थ सेठी की Family Office Investment Firm है। तीनो एक अत्यधिक सफल NSE लिस्टेड आई.टी. कंपनी Infobeans Technologies ltd के संस्थापक हैं। Infobeans के सह संस्थापक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी, सिद्धार्थ सेठी, GullyBuy बोर्ड में शामिल हो गए हैं। उनका कहना है की “जबकी Offline to Online Retail Solution तेजी से बढ़ रहा है, हमने GullyBuy द्वारा स्थानीय स्टोर्स को बढ़ावा देने के विज़न में उनका साथ देने का निर्णय लिया है|अन्य सेवाएं या तो दुकानों को व्यक्तिगत ऑनलाइन सेवाएं प्रदान करती हैं या आपूर्ति सेवा ऐप के साथ दुकानों को बायपास करती हैं। बड़ी ई-कॉमर्स कंपनियां दुकानों को केवल अपना प्रतिनिधि बना रही हैं। GullyBuy की टीम बहुत प्रतिभाशाली और अनुभवी है और हमें विश्वास है कि वे सफल होंगे।“


USER App से ऑर्डर करना बेहद आसान है। उपयोगकर्ता पिछले ऑर्डर्स से भी वस्तुओं का चयन कर सकता है, कैटलॉग से प्रॉडक्ट्स ऑर्डर कर सकता है, साधारण text या फिर Voice to text द्वारा सामान की सूची तैयार कर सकता है। साथ ही ग्राहकों को विशेष ऑफर भी दिए जा रहे हैं। विक्रेता द्वारा ऐप डाउनलोड करके KYC की प्रक्रिया पूरा करने के तुरंत बाद स्टोर ऑनलाइन आ जाता है और ऑर्डर्स स्वीकार कर सकता हैं। दुकान के मालिक अपनी सुविधानुसार उत्पादों की सूची दिखा सकते हैं, छूट दे सकते हैं। ग्राहक UPI द्वारा ऑनलाइन भुगतान स्टोर पर सीधे कर सकते हैं। दोनों ऐप वर्तमान में फ़्री हैं।


शिरीष देवधर (सह संस्थापक - GullyBuy) ने कहा - "SEED ने हमारे ऊपर जो विश्वास दिखाया है, उसका हम मान करते हैं। यह निवेश हमारी Sales / Marketing टीमों को App को और अधिक तेजी से बढ़ावा देने के लिए और हमारी इंजीनियरिंग टीम को उत्पाद रोडमैप पर तेजी से काम करने में मदद करेगा।“


स्वाति देवधर (सह संस्थापक- Gully buy) ने कहा - “हमने अपने App को साधारण कार्यप्रणाली के साथ रिलीज़ करने का निर्णय लिया। जल्द ही ऐप में आने वाली कुछ और प्रगतिशील और महत्वपूर्ण विशेषताओं में -Machine learning, Analytics, डिलीवरी सेवाओं के लिए साझेदारी, ब्रांड प्रोमोशन और स्थानीय भाषाओं का चयन शामिल हैं। हम GullyShop की संकल्पना पर भी काम कर रहे हैं, जो दुकानदारों के लिए बहुत उपयोगी होगी।“


About GullyBuy Software:

अनुभवी उद्यमियों की एक टीम ने अक्टूबर 2019 में पुणे में एक स्टार्टअप, GullyBuy Software की स्थापना की है। पहले भी इन्होंनें तीन और टेक्नोलॉजी कंपनियां स्थापित कर उन्हें सफ़ल बनाये हैं | GullyBuy का विज़न “Simplify Shopping, Simplify Life" का है, जिसके तहत पूरे भारत को एक Digital marketplace platform उपलब्ध कराना है जो पड़ोस (गल्ली ) के सभी ग्राहकों और स्टोर्स / विक्रेताओं को सीधा एक - दूसरे से जोड़ता है।



Download GullyBuy User App: खरीदारी अब आसान




Media Contact:

Koeli Chatterjee, Sr. Manager - Marketing & Communication, GullyBuy Software | koeli@gullybuy.com



Get our latest updates

Company
Resources
Download App

For Users

For Vendors / Shops (Android)

GB_Logo_TM-02.png
Follow us on
  • Facebook
  • Twitter
  • LinkedIn

© 2020 by GullyBuy Software Pvt Ltd. All rights reserved.

Illustrations by Freepik Stories